भारत की AI: मोदी सरकार द्वारा पेश किया ‘भाषिणी’

मोदी सरकार द्वारा लाए जा रहे AI में नया उपकरण, जिससे अनुवाद की दुनिया में आ सकती है क्रांति: AI प्लेटफ़ॉर्म ‘भाषिणी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेंगलुरु में आयोजित G20 इकनॉमी मिनिस्ट्रियल मीट में दर्शाया है कि भारत AI पर आधारित ‘भाषिणी’ प्लेटफ़ॉर्म को लाने की योजना बना रहा है। यह उपकरण अनुवाद के क्षेत्र में क्रांति ला सकता है और भारत के डिजिटल परिवर्तन की सराहना की गई है। ‘भाषिणी’ के माध्यम से अब अनुवाद 22 भाषाओं में किया जा सकेगा, जो डिजिटल इंडिया के विस्तार का हिस्सा है।

इस प्रोजेक्ट के माध्यम से, भारत अनुवाद द्वारा दुनिया में अपनी पहचान बना सकता है और डिजिटल युग में अपने अद्वितीयता को प्रकट कर सकता है। ‘भाषिणी’ उपकरण न केवल भाषाओं के बीच के अंतर को कम करने में मदद करेगा, बल्कि विभिन्न सामाजिक और आर्थिक क्षेत्रों में भी उपयोगी साबित हो सकता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले 9 साल में भारत के डिजिटल परिवर्तन की सराहना की और ‘भाषिणी’ के माध्यम से उन्होंने भारतीय तकनीकी विकास को प्रोत्साहित किया। यह उपकरण भाषाओं के बीच की भाषाई सीमाओं को छेड़कर उन्हें आपसी संवाद करने में मदद कर सकता है और विश्वव्यापी समृद्धि की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकता है।

Information used in this video is taken from- news24online.com

Leave a comment