18 अगस्त 2023 को भारत के विभिन्न हिस्सों में मौसम

मौसम एक ऐसी गतिशील प्रक्रिया है जो हमारे दैनिक जीवन को प्रभावित करने वाली है, और यह विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न पैटर्न दिखाता है। 18 अगस्त 2023 को भारत के विभिन्न हिस्सों में हो रहे मौसम के पैटर्न और पूर्वानुमान की चर्चा करते हैं।

मानसून का पथ और चक्रवाती परिसंचरण: मानसून ट्रफ वर्तमान में अमृतसर, देहरादून, बरेली, गोरखपुर, पटना, बांकुरा, दीघा और दक्षिण-पूर्व की ओर पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी से होकर गुजर रहा है। इससे उत्तरी बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव क्षेत्र बनने की संभावना है जिसका प्रभाव 18 अगस्त को दिख सकता है।

चक्रवाती परिसंचरण का प्रभाव: उत्तर-पूर्वी और पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती परिसंचरण बना हुआ है जिसका समुंद्र तल से 4.5 और 7.6 किमी ऊपर होने का प्रमाण है। इससे उत्तरी बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र उत्पन्न होने की संभावना है।

उत्तर-पश्चिमी उत्तर प्रदेश का मौसम: उत्तर-पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चक्रवाती परिसंचरण का प्रभाव दिख रहा है जिससे यह क्षेत्र मौसम पर विशिष्ट प्रभाव डाल रहा है।

उत्तर-दक्षिण ट्रफ: दक्षिण आंतरिक कर्नाटक से कोमोरिन क्षेत्र तक उत्तर-दक्षिण ट्रफ बनी हुई है, जिसका मौसम पर असर दिखा रहा है।

पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव: मध्य-क्षोभमंडलीय पछुआ हवाओं में पश्चिमी विक्षोभ गर्त के रूप में पाया जा रहा है, जिसकी धुरी समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर स्थित है। यह क्षेत्र बारिश और मौसम पर प्रभाव डाल रहा है।

पिछले 24 घंटों का मौसम: पिछले 24 घंटों में देश भर में विभिन्न क्षेत्रों में मौसमी हलचल देखी गई। बिहार के उत्तरी हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश हुई। पश्चिम बंगाल, ओडिशा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, उत्तरी तमिलनाडु में हल्की से मध्यम बारिश के साथ दो बार भारी बारिश हुई। जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, कोंकण और गोवा, तटीय कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश हुई। दिल्ली, पश्चिम मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, पूर्वोत्तर भारत और पूर्वी राजस्थान, गुजरात और लक्षद्वीप में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई।

आगामी 24 घंटों का मौसम पूर्वानुमान: आगामी 24 घंटों में गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, तेलंगाना, दक्षिणपूर्व उत्तर प्रदेश और बिहार में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश संभव है। पूर्वोत्तर भारत, उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों, कोंकण और गोवा, तटीय कर्नाटक, हिमाचल प्रदेश, और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। दिल्ली, पूर्वी राजस्थान, छत्तीसगढ़, उत्तर पूर्व भारत, गुजरात, लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, जम्मू-कश्मीर, आंतरिक कर्नाटक, और आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है।

संक्षेप: इस पूरी जानकारी के माध्यम से हमने देखा कि भारत में 18 अगस्त 2023 को मौसम के विभिन्न पैटर्न और परिस्थितियाँ दिख रही हैं। मानसून ट्रफ की मार्गनिर्देशिता, चक्रवाती परिसंचरण का प्रभाव, और उत्तर-पश्चिमी उत्तर प्रदेश का मौसम आपके विचारों को एक नई दिशा देने का प्रयास कर रहे हैं। यह जानकारी मौसम पूर्वानुमान और विशेषज्ञों के अनुसार है, और यह सटीक और विश्वसनीय दृष्टिकोण प्रदान करती है।

Leave a comment